News

Arun Jaitley Dies: वित्त मंत्री रहते जेटली ने किए ये 10 बड़े काम

Written by  on March 23, 2020


Arun Jaitley Dies: वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ रहते जेटली ने किठये 10 बड़े काम
पूरà¥à¤µ वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ और बीजेपी के कदà¥à¤¦à¤¾à¤µà¤° नेता अरà¥à¤£ जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार की दोपहर करीब 12 बजे निधन हो गया। जेटली ने 2014 से 2019 तक देश के वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ रहते कई बड़े कदम उठाà¤

नई दिलà¥à¤²à¥€ (बिजनेस डेसà¥à¤•)। पूरà¥à¤µ वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ और बीजेपी के कदà¥à¤¦à¤¾à¤µà¤° नेता अरà¥à¤£ जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार की दोपहर करीब 12 बजे निधन हो गया। वे बीते कई दिनों से नई दिलà¥à¤²à¥€ के à¤à¤®à¥à¤¸ असà¥à¤ªà¤¤à¤¾à¤² में भरà¥à¤¤à¥€ थे। जेटली ने 2014 से 2019 तक देश के वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ रहते कई बड़े कदम उठाà¤à¥¤ जानिठजेटली के à¤à¤¸à¥‡ ही कà¥à¤› योगदान के बारे में…

वसà¥à¤¤à¥ à¤à¤µà¤‚ सेवा कर (जीà¤à¤¸à¤Ÿà¥€): जेटली जब वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ थे, तब 1 जà¥à¤²à¤¾à¤ˆ 2017 से जीà¤à¤¸à¤Ÿà¥€ लागू किया गया था। जीà¤à¤¸à¤Ÿà¥€ का उदà¥à¤¦à¥‡à¤¶à¥à¤¯ राजà¥à¤¯ और केंदà¥à¤° के अपà¥à¤°à¤¤à¥à¤¯à¤•à¥à¤· करों को मिलाकर भारत की जटिल अपà¥à¤°à¤¤à¥à¤¯à¤•à¥à¤· कर संरचना को आसान बनाना है।

ADVERTISING

बैंकों का विलय: सारà¥à¤µà¤œà¤¨à¤¿à¤• कà¥à¤·à¥‡à¤¤à¥à¤° के बैंकों (PSB) की दशा में सà¥à¤§à¤¾à¤° के लिठजेटली के वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ रहते छोटे बैंकों का बड़े बैंकों में विलय कर दिया गया। इसके तहत बैंक ऑफ बड़ौदा, देना बैंक और विजया बैंक का विलय हà¥à¤†à¥¤

जन धन योजना: इसकी शà¥à¤°à¥à¤†à¤¤ 2014 में की गई थी, जिसका उदà¥à¤¦à¥‡à¤¶à¥à¤¯ गà¥à¤°à¤¾à¤®à¥€à¤£ कà¥à¤·à¥‡à¤¤à¥à¤°à¥‹à¤‚ में वितà¥à¤¤à¥€à¤¯ समावेशन को बढ़ावा देना था। इसके तहत जीरो बैलेंस बैंक अकाउंट खातों की शà¥à¤°à¥à¤†à¤¤, लोन, बीमा और पेंशन के पहà¥à¤‚च में वृदà¥à¤§à¤¿ जैसे उपाय किठगà¤à¥¤ इसका मकसद गरीबों के खातों में सीधे सबà¥à¤¸à¤¿à¤¡à¥€ भेजना था।

इनà¥à¤¸à¥‰à¤²à¥à¤µà¥‡à¤‚सी à¤à¤‚ड बैंकरपà¥à¤¸à¥€ कोड (IBC): हाल के दिनों में भारतीय अरà¥à¤¥à¤µà¥à¤¯à¤µà¤¸à¥à¤¥à¤¾ में बैंकिंग घोटाले मà¥à¤–à¥à¤¯ तौर पर सामने आà¤à¥¤ इन घटनाओं ने अरà¥à¤¥à¤µà¥à¤¯à¤µà¤¸à¥à¤¥à¤¾ को बड़ा नà¥à¤•à¤¸à¤¾à¤¨ पहà¥à¤‚चाया। केंदà¥à¤° सरकार ने बैंकिंग वà¥à¤¯à¤µà¤¸à¥à¤¥à¤¾ में ढांचागत सà¥à¤§à¤¾à¤° करते हà¥à¤ 2016 मे इंसॉलà¥à¤µà¥‡à¤‚सी à¤à¤‚ड बैंकरपà¥à¤¸à¥€ कोड (आईबीसी) कानून को पारित किया था आज इस कानून की वजह से करà¥à¤œ लेकर उनà¥à¤¹à¥‡à¤‚ डकार जाने वाली कंपनियां और पूंजीपति में à¤à¤• डर का माहौल है।

LTCG टैकà¥à¤¸: लॉनà¥à¤— टरà¥à¤® कैपिटल गेनà¥à¤¸ टैकà¥à¤¸ को à¤à¤• विवादासà¥à¤ªà¤¦ कर माना गया, यह कर अधिगà¥à¤°à¤¹à¤£ की तारीख से à¤à¤• वरà¥à¤· की नà¥à¤¯à¥‚नतम अवधि के लिठआयोजित शेयरों, अचल संपतà¥à¤¤à¤¿ और शेयर-ओरिà¤à¤‚टेड पà¥à¤°à¥‹à¤¡à¤•à¥à¤Ÿ जैसे परिसंपतà¥à¤¤à¤¿à¤¯à¥‹à¤‚ से उतà¥à¤ªà¤¨à¥à¤¨ लाभ पर लगाया गया था। ततà¥à¤•à¤¾à¤²à¥€à¤¨ वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ पी चिदंबरम दà¥à¤µà¤¾à¤°à¤¾ 2004-05 में इसे खतà¥à¤® करने के बाद दोबारा पेश किया गया।

सारà¥à¤µà¤œà¤¨à¤¿à¤• कà¥à¤·à¥‡à¤¤à¥à¤° के बैंकों का (PSB) रीकैपिटलाइजेशन: सरकार ने PSB की खराब हालत को सà¥à¤§à¤¾à¤°à¤¨à¥‡ के लिठबड़े पैमाने पर रीकैपिटलाइजेशन पहल की शà¥à¤°à¥à¤†à¤¤ की। वितà¥à¤¤à¥€à¤¯ वरà¥à¤· 2018-19 में बैंक रीकैपिटलाइजेशन के लिठकà¥à¤² 1.06 लाख करोड़ रà¥à¤ªà¤¯à¥‡ दिठगà¤à¥¤

नोटबंदी: नोटबंदी को विवादासà¥à¤ªà¤¦ कदम माना गया। 8 नवंबर 2016 को देश में 500 रà¥à¤ªà¤¯à¥‡ और 1,000 रà¥à¤ªà¤¯à¥‡ के बैंक नोटों के चलन पर रोक लगा दी गई, जिसके कारण कई महीनों तक तरलता की गंभीर समसà¥à¤¯à¤¾ बनी रही। इसके बाद 500 रà¥à¤ªà¤¯à¥‡ और 2,000 रà¥à¤ªà¤¯à¥‡ के बैंक नोट जारी किठगà¤à¥¤

कर में छूट: पà¥à¤°à¤¤à¤¿ वरà¥à¤· 5 लाख रà¥à¤ªà¤¯à¥‡ से कम आय वालों को आयकर के भà¥à¤—तान से छूट दी गई थी, इसकी घोषणा जेटली ने अपने आखिरी केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ बजट में की थी। तब वे वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ थे।

सारà¥à¤µà¤œà¤¨à¤¿à¤• उपकà¥à¤°à¤®à¥‹à¤‚ का विनिवेश: सारà¥à¤µà¤œà¤¨à¤¿à¤• कà¥à¤·à¥‡à¤¤à¥à¤° के उपकà¥à¤°à¤®à¥‹à¤‚ (सारà¥à¤µà¤œà¤¨à¤¿à¤• उपकà¥à¤°à¤®à¥‹à¤‚) में सरकार की हिसà¥à¤¸à¥‡à¤¦à¤¾à¤°à¥€ का विनिवेश वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ के जेटली के रहते हà¥à¤ घाटे के लकà¥à¤·à¥à¤¯à¥‹à¤‚ को पूरा करने के लिठकिया गया था। वितà¥à¤¤ वरà¥à¤· 2015 के लिठविनिवेश का लकà¥à¤·à¥à¤¯ 1,05,000 करोड़ रà¥à¤ªà¤¯à¥‡ था।

जीà¤à¤¸à¤Ÿà¥€ परिषद का निरà¥à¤®à¤¾à¤£: जेटली के समय जीà¤à¤¸à¤Ÿà¥€ परिषद का निरà¥à¤®à¤¾à¤£ हà¥à¤†à¥¤ कर संरचना को आसान बनाने में जीà¤à¤¸à¤Ÿà¥€ परिषद का अहम योगदान है।

 

https://www.jagran.com/business/biz-former-finance-minister-arun-jaitley-dies-10-highlights-of-his-tenure-19514941.html

इतिहास रचने वाले 7 पूर्व CM समेत देश ने खोया इन दिग्गज नेताओं को, ये हैं कुछ अजब संयोग

Written by  on March 21, 2020


Source Jagran patrika

इतिहास रचने वाले 7 पूरà¥à¤µ CM समेत देश ने खोया इन दिगà¥à¤—ज नेताओं को, ये हैं कà¥à¤› अजब संयोग
यह महज इतà¥à¤¤à¥‡à¤«à¤¾à¤• है कि अगसà¥à¤¤ 2018 से लेकर अगसà¥à¤¤ 2019 तक à¤à¤• साल से भी कम समय में देश ने तकरीबन दरà¥à¤œà¤¨ भर दिगà¥à¤—ज नेताओं को खो दिया है। इनमें जà¥à¤¯à¤¾à¤¦à¤¾à¤¤à¤° नेता कांगà¥à¤°à¥‡à¤¸-BJP के हैं।

नई दिलà¥à¤²à¥€ [जागरण सà¥à¤ªà¥‡à¤¶à¤²]। 9 अगसà¥à¤¤ से दिलà¥à¤²à¥€ सà¥à¤¥à¤¿à¤¤ अखिल भारतीय आयà¥à¤°à¥à¤µà¤¿à¤œà¥à¤žà¤¾à¤¨ संसà¥à¤¥à¤¾à¤¨ (All India Institute of Medical Sciences) में भरà¥à¤¤à¥€ भारतीय जनता पारà¥à¤Ÿà¥€ के वरिषà¥à¤  नेता और पूरà¥à¤µ केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ अरà¥à¤£ जेटली ने शनिवार को दà¥à¤¨à¤¿à¤¯à¤¾ को अलविदा कह दिया। à¤à¤®à¥à¤¸ में भरà¥à¤¤à¥€ रहने के दौरान उनà¥à¤¹à¥‹à¤‚ने 15 दिन तक जिंदगी की जंग लड़ी और मौत को मात देने की कवायद में जà¥à¤Ÿà¥‡ रहे, लेकिन शनिवार को पूरà¥à¤µ केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ अरà¥à¤£ जेटली जिंदगी की जंग हार गठऔर उनका निधन हो गया।

(0:32)
0:01/0:32

यह महज इतà¥à¤¤à¥‡à¤«à¤¾à¤• है कि अगसà¥à¤¤, 2018 से लेकर अगसà¥à¤¤, 2019 तक à¤à¤• साल से भी कम समय में देश ने तकरीबन दरà¥à¤œà¤¨ भर दिगà¥à¤—ज नेताओं को खो दिया है। इनमें जà¥à¤¯à¤¾à¤¦à¤¾à¤¤à¤° नेता कांगà¥à¤°à¥‡à¤¸ (Congress) और भारतीय जनता पारà¥à¤Ÿà¥€ (Bhartiay Janta Party) से जà¥à¤¡à¤¼à¥‡ थे और इन सभी ने किसी-न-किसी रूप में इतिहास रचा। इनमें सबसे बड़ा नाम भारत रतà¥à¤¨ और पूरà¥à¤µ पà¥à¤°à¤§à¤¾à¤¨à¤®à¤‚तà¥à¤°à¥€ अटल बिहारी वाजपेयी का है, जिनका निधन 16 अगसà¥à¤¤, 2018 को दिलà¥à¤²à¥€ के à¤à¤®à¥à¤¸ में ही हà¥à¤† था। इसके बाद मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾, शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤, मनोहर परà¥à¤°à¤¿à¤•à¤°, जयपाल रेडà¥à¤¡à¥€, सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ, नारायण दतà¥à¤¤ तिवारी, जगनà¥à¤¨à¤¾à¤¥ मिशà¥à¤°à¤¾, बाबू लाल गौर और शनिवार को अरà¥à¤£ जेटली ने भी à¤à¤®à¥à¤¸ में अंतिम सांस ली।

भाजपा के तीन पूरà¥à¤µ केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ समेत और à¤à¤• सीà¤à¤® का अगसà¥à¤¤ महीने में निधन
यह मजह इतà¥à¤¤à¥‡à¤«à¤¾à¤• है कि इस साल अगसà¥à¤¤ महीने में ही तीन पूरà¥à¤µ केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¤¿à¤¯à¥‹à¤‚ (मनोहर परà¥à¤°à¤¿à¤•à¤°, सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ और अरà¥à¤£ जेटली) का निधन हà¥à¤†, जबकि बाबू लाल गौर का निधन भी अगसà¥à¤¤ महीने में हà¥à¤†à¥¤ बता दें कि मूलरूप से उतà¥à¤¤à¤° पà¥à¤°à¤¦à¥‡à¤¶ के पà¥à¤°à¤¤à¤¾à¤ªà¤—ढ़ के रहने वाले बाबू लाल गौर ने मधà¥à¤¯ पà¥à¤°à¤¦à¥‡à¤¶ का मà¥à¤–à¥à¤¯à¤®à¤‚तà¥à¤°à¥€ बनकर à¤à¤• इतिहास ही रचा था।

वहीं, बिहार के पूरà¥à¤µ सीà¤à¤® जगनà¥à¤¨à¤¾à¤¥ मिशà¥à¤°à¤¾ का निधन 19 अगसà¥à¤¤ को दिलà¥à¤²à¥€ के दà¥à¤µà¤¾à¤°à¤•à¤¾ में हà¥à¤† था। उनà¥à¤¹à¥‡à¤‚ बिहार में तीन बार मà¥à¤–à¥à¤¯à¤®à¤‚तà¥à¤°à¥€ रहने का रà¥à¤¤à¤¬à¤¾ हासिल था।

28 जà¥à¤²à¤¾à¤ˆ को हà¥à¤† केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ जयपाल रेडà¥à¤¡à¥€ का निधन
पूरà¥à¤µ केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ और कांगà¥à¤°à¥‡à¤¸ के वरिषà¥à¤  नेता जयपाल रेडà¥à¤¡à¥€ (Jaipal Reddy) का पिछले महीने 28 जà¥à¤²à¤¾à¤ˆ को हैदराबाद में निधन हो गया। पूरà¥à¤µ केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ जयपाल रेडà¥à¤¡à¥€ पिछले कई दिनों से खराब सà¥à¤µà¤¾à¤¸à¥à¤¥à¥à¤¯ की समसà¥à¤¯à¤¾ से गà¥à¤œà¤° रहे थे। उनके निधन पर राजà¥à¤¯à¤¸à¤­à¤¾ में शà¥à¤°à¤¦à¥à¤§à¤¾à¤‚जली देने के दौरान उपराषà¥à¤Ÿà¥à¤°à¤ªà¤¤à¤¿ वेंकैया नायडॠरो पड़े थे।

7 पूरà¥à¤µ सीà¤à¤® का à¤à¤• साल से भी कम समय में निधन
इनमें पांच, नारायाण दतà¥à¤¤ तिवारी, मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾, शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤, सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ (दिलà¥à¤²à¥€), जगनà¥à¤¨à¤¾à¤¥ मिशà¥à¤°à¤¾ (बिहार) और बाबू लाल गौर (मधà¥à¤¯ पà¥à¤°à¤¦à¥‡à¤¶)  के सीà¤à¤® रह चà¥à¤•à¥‡ थे। इनमें सबसे बड़ा नाम तो नारायण दतà¥à¤¤ तिवारी का था, जिनà¥à¤¹à¥‹à¤‚ने इस लिहाज से इतिहास रचा था कि वे दो राजà¥à¤¯à¥‹à¤‚ (उतà¥à¤¤à¤° पà¥à¤°à¤¦à¥‡à¤¶ और उतà¥à¤¤à¤°à¤¾à¤‚खड) के सीà¤à¤® रहे इकलौते भारतीय नेता था। अब तक यह रिकॉरà¥à¤¡ उनà¥à¤¹à¥€à¤‚ के नाम है।

इमानदारी की मिसाल माने जाने वाले गोवा के सीà¤à¤® रहे मनोहर परà¥à¤°à¤¿à¤•à¤° का भी निधन 17 मारà¥à¤š, 2019 को हà¥à¤†à¥¤ उनà¥à¤¹à¥‹à¤‚ने रकà¥à¤·à¤¾à¤®à¤‚तà¥à¤°à¥€ के तौर पर अपनी अहम भूमिका निभाई।

दिलà¥à¤²à¥€ से जà¥à¤¡à¤¼à¥‡ 4 बड़े नेताओं का निधन
दिलà¥à¤²à¥€ से जà¥à¤¡à¤¼à¥‡ तीन बड़े नेताओं शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤ (20 जà¥à¤²à¤¾à¤ˆ), सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ (6 अगसà¥à¤¤) और अरà¥à¤£ जेटली (24 अगसà¥à¤¤) का निधन हà¥à¤†à¥¤ इनमें दो (शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤ और सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ) नेता तो दिलà¥à¤²à¥€ के पूरà¥à¤µ सीà¤à¤® रह चà¥à¤•à¥‡ थे, जबकि अरà¥à¤£ जेटली 1999 से 2012 तक दिलà¥à¤²à¥€ à¤à¤µà¤‚ जिला कà¥à¤°à¤¿à¤•à¥‡à¤Ÿ संघ (Delhi and District Cricket Association)  के अधà¥à¤¯à¤•à¥à¤· भी रहे।

माना जाठतो à¤à¤• साल के भीतर दिलà¥à¤²à¥€ ने तीन नहीं चार बड़े नेताओं (मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾, शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤, सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ और अरà¥à¤£ जेटली) को खोया है, जिनका राजà¥à¤¯ सà¥à¤¤à¤° पर ही नहीं, बलà¥à¤•à¤¿ राषà¥à¤Ÿà¥à¤°à¥€à¤¯ सà¥à¤¤à¤° की राजनीति में भी दखल था। चारों ही केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ रहे चà¥à¤•à¥‡ थे।

दो नेताओं ने की थी डीयू से पढ़ाई
इनमें अरà¥à¤£ जेटली और शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤ ने तो दिलà¥à¤²à¥€ विशà¥à¤µà¤µà¤¿à¤¦à¥à¤¯à¤¾à¤²à¤¯ (Delhi university) से पढ़ाई की थी। केंदà¥à¤° में वितà¥à¤¤ मंतà¥à¤°à¥€ जैसा अहम महकमा संभालने वाले अरà¥à¤£ जेटली ने तो दिलà¥à¤²à¥€ विशà¥à¤µà¤µà¤¿à¤¦à¥à¤¯à¤¾à¤²à¤¯ छातà¥à¤° संघ (Delhi University Students Union) से राजनीति के करियर की शà¥à¤°à¥à¤†à¤¤ की थी।

तीन का जनà¥à¤® पंजाब में, बाद में बने दिलà¥à¤²à¥€ के सीà¤à¤®
मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾, शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤ और सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ तीनों का रिशà¥à¤¤à¤¾ पंजाब से रहा था। जहां सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ का जनà¥à¤® अंबाला (फिलहाल हरियाणा में, विभाजन से पहले यह पंजाब में था) में हà¥à¤† तो शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤ का जनà¥à¤® पंजाब के कपूरथला में हà¥à¤† था। वहीं, मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾ का जनà¥à¤® पंजाब (पाकिसà¥à¤¤à¤¾à¤¨) में हà¥à¤† था। बाद में तीनों की दिलà¥à¤²à¥€ के मà¥à¤–à¥à¤¯à¤®à¤‚तà¥à¤°à¥€ बने।

मदनलाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾ और सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ का रात को हà¥à¤† निधन
यह महज संयोग है कि भाजपा से जà¥à¤¡à¤¼à¥‡ दोनों मà¥à¤–à¥à¤¯à¤®à¤‚तà¥à¤°à¤¿à¤¯à¥‹à¤‚ (मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾ और सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ) का निधन रात को हà¥à¤†à¥¤ जब मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾ ने 27 अकà¥à¤Ÿà¥‚बर को अंतिम सांस ली तो वह दिन शनिवार का था और समय रात का था। वहीं, सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ का निधन भी रात को ही हà¥à¤†à¥¤

शीला, मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾ और अरà¥à¤£ जेटली का शनिवार को हà¥à¤† निधन
यह भी महज संयोग है कि शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤, मदन खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾ और अरà¥à¤£ जेटली का जिस दिन निधन हà¥à¤† वह दिन शनिवार ही था।

शीला, मदन लाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾, मनोहर परà¥à¤°à¤¿à¤•à¤° और सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ चारों रहे केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€
यह भी संयोग अजब है कि चारों ही केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ रहे। जहां शीला दीकà¥à¤·à¤¿à¤¤ सीà¤à¤® बनने से पहले केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ बनीं तो सà¥à¤·à¤®à¤¾ सà¥à¤µà¤°à¤¾à¤œ और मदनलाल खà¥à¤°à¤¾à¤¨à¤¾ पूरà¥à¤µ मà¥à¤–à¥à¤¯à¤®à¤‚तà¥à¤°à¥€ होने के बाद केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ के पद पर रहे। वहीं, मनोहर परà¥à¤°à¤¿à¤•à¤° गोवा के कई बार सीà¤à¤® रहे फिर केंदà¥à¤°à¥€à¤¯ मंतà¥à¤°à¥€ रहने के बाद फिर से सीà¤à¤® का पद संभाला।

https://www.jagran.com/politics/national-ncr-india-lost-these-veteran-leaders-including-6-former-chief-minister-who-created-history-jagran-special-19514822.html